Home » Blog » पूजन मे घी का उपयोग » पूजन मे घी का उपयोग क्यों करना चाहिए

पूजन मे घी का उपयोग क्यों करना चाहिए

पूजन मे घी का उपयोग क्यों करना चाहिए

         पूजा में घी का उपयोग बहुत ही शुद्ध माना गया हैं।इसके धुए से वायु में मौजूद हानिकारक विषाणु को नष्ट कर देता है। और नकारात्मक ऊर्जा को नष्ट करता है तथा वातावरण में पवित्रता लाता है।हवन या यज्ञ में घी का उपयोग करने पर जब यह जलता है तो यह वातावरण में एक पॉजिटिव ऊर्जा फैलाता है हमारे वेदो में भी पूजा का उपयोग श्रेश्ठकर माना गया है |

https://goushrestha.com/shop/a2-cow-ghee/
                

Ghee

Pure A2 COW Ghee


शुद्ध घी से रोग दूर रहता हैं व उपचार के लिए भी लाभप्रद हैं।
                        

  शुद्ध देसी घी का सेवन करने से वजन व शुगर जैसी बीमारी होने का खतरा कम बना रहता है। साथ ही हमारे मेटाबॉलिज्म को ठीक रखता है। घी वजन को भी नियंत्रित रखता है। देसी गाय का घी खाना ही नहीं इसे उपचार के लिए भी उपयोग में लिया जाता है। जो बहुत ही लाभप्रद माना गया है।  घी कफ को भी दूर करने में सहायक है। घी को थोड़ा गर्म कर उसमें थोड़ा सा नमक डालकर छाती व पीठ पर मालिश करने से कफ की शिकायत दूर हो जाती है।
           

घी में पाए जाने वाले उपयोगी तत्व              

          देसी गाय के घी में विटामिन 2 पाया जाता है। जो खून सेल्स में जमा कैल्शियम को हटाने का कार्य करता है। इसे हमारा ब्लड सरकुलेशन सही रहता है। देसी घी हमारे इम्यून सिस्टम को मजबूत करता है। जिससे बीमारियों से लड़ने की हमे ताकत मिलती है।
                   शुद्ध देसी गाय का घी शरीर में जमा फैट को गलाकर विटामिन में बदलने का कार्य करता है। इसके अलावा खाने में गाय का घी मिलाकर खाने से खाना जल्दी पच जाता हैं। जिससे हमारा शरीर स्वस्थ व तंदुरस्त बना रहता हैं पूजा-पाठ व धार्मिक कार्यों में दूध, देसी गाय का घी का विशेष महत्व है।यज्ञ करते समय घी से आहुति देने पर व घी का दीपक जलाने पर जो धुआ निकलता है। वह धुंआ हमारे वातावरण के लिए भी लाभकारी होता है।
        

 

 
शुद्ध देसी प्रोडक्ट का उद्देश्य यह है कि हम  शुद्ध देसी घी आप तक पहुंचाएं ताकि सब मिलावटी की दुनिया से बाहर आकर अपने जीवन को स्वस्थ , सुंदर और समृद्ध बना सके
                          

https://goushrestha.com/shop/a2-cow-ghee/

धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *