Skip to content

A2 और A1 दूध से बने घी में अंतर

Student Council Blog Banner 2 50

क्या होता है A1 दूध से बना घी 

दूध में दो प्रकार के प्रोटीन होते हैं: वेह (whey) प्रोटीन और केसीन (casein) प्रोटीन। केसीन प्रोटीन के भी दो प्रकार हैं।  अल्फा केसीन और बीटा केसीन। लेकिन ये बीटा केसीन भी दो रूपों में पाया जाता है। एक A1 मिल्क और दूसरा A2 मिल्क। परन्तु इन दोनों में से कौन सा दूध सबसे ज्यादा अच्छा है इस विषय में बहुत चर्चा भी हुई है और A1 मिल्क, A1 टाइप की गाय देती हैं और A2 मिल्क A2 किस्म की गाय देती हैं। अगर मेजोरिटी की बात करें तो भारत समेत दुनिया के बाकी देशों में भी A1 दूध को ही पीया जा रहा है क्योंकि A2 दूध बहुत कम मात्रा में मिलता है ऐसी गायों से मिलने वाले दूध को A2 दूध का नाम दिया गया है। जो बहुत ही सीमित मात्रा में हैं और इनके दूध को बहुत गुणकारी माना गया है। इसलिए इस दूध की उपलब्धता बहुत कम है। वहीं इसके विपरीत A1 गाय भारत में सबसे अधिक पाई जाती हैं, बाहर के देशों में भी अधिकतर ये ही गाय मिलती हैं, इन्हें हाइब्रिड गाय भी कहा जाता है। 

Student Council Blog Banner 2 1

A1 दूध देने वाली विदेशी नस्लों की गायों के नाम इस प्रकार है

हालिस्टीन गाय, ब्राउन स्विस गाय, जर्सी गाय, गिरओलेन्डो गाय, फ्रिसवाल, करनस्विस गाय, करन फ्रिश, ब्राजीलियन गाय 

A2 दूध देने वाली देसी भारतीय नस्ल की गाय

गीर, साहिवाल, कांकरेज, राठी एवं भारत में पाई जाने वाली समस्त देसी गौ माता के नस्ल A2 प्रकार का दूध देती है I

क्यों उत्तम होता है A2 दूध से बना घी 

A2 दूध में कैल्शियम और प्रोटीन मात्रा अत्यधिक होता है I प्रोटीन कई प्रकार के होते हैं उन्हीं में से एक प्रोटीन है, केसीन, जिसकी दूध में मात्रा लगभग 80%  होती है। इसलिए लिए a2 दूध से बना घी सर्वोत्तम माना गया है। रिसर्च में ये पाया गया है कि देसी गाय जो A2 दूध देती हैं उसमें केसीन प्रोटीन के साथ-साथ एक बहुत ही खास अमीनो एसिड भी निकलता है जिसे हम प्रोलीन (prolin) कहते हैं। माना गया है कि ये प्रोलीन नामक अमीनो एसिड हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है और ये केवल A2 घी में ही उपलब्ध है अतः A2 घी A1 घी से बहुत ही अच्छा माना गया है और यह पाया गया है कि A2 घी में विद्यमान प्रोलीन हमारी शरीर में BCM 7 को पहुंचने से रोकता है। आइए जानते है  BCM 7 क्या होता है।

BCM 7 एक ओपीओइड पेप्टाइड (opioid peptide) होता है I यह एक प्रोटीन है, जो हमारी शरीर में नहीं पचता है। इससे अपच हो सकता है और कई शोध से भी पता चला है की इसमे कई प्रकार की समस्या या रोग हो सकते हैं जैसे मधुमेह आदि I यानी हम कह सकते हैं कि A2 दूध में प्रोलीन अमीनो एसिड BCM 7 को हमारे शरीर में जाने से रोकता है. मगर जो A1 गाय हैं वो प्रोलीन नहीं बनाती हैं तो इससे जो BCM 7 है वो हमारे शरीर में जाता है और बाद में ब्लड में भी धीरे-धीरे घुल जाता है।

इसे हम ऐसे भी समझ सकते है कि BCM 7 प्रोटीन A2 दूध देने वाली गायों के यूरीन, ब्लड या आंतों में नहीं पाया जाता है, लेकिन यही प्रोटीन A1 गायों के दूध में पाया जाता है, इस कारण से A1 दूध को पचाने में बहुत समस्या होती है। इसी लिए A2 दूध से बना घी हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभकारी है।

 

भारतीय देसी गायों का नस्ल एवं महत्व

 

भारतीय देसी गायों के उत्पाद आर्डर करें Order Now 

 

Bilona Ghee Vs Normal Ghee 

 

देसी गाय का घी Vs भैंस का घी

 

Cow Dung Dhoop Batti Benefits गोबर से बने धूपबत्ती के लाभ

 

2 thoughts on “A2 और A1 दूध से बने घी में अंतर”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
0
    0
    Your Cart
    Your cart is emptyReturn to Shop
      Calculate Shipping
      Apply Coupon
      Unavailable Coupons
      prepaid10 Get 10% off 10% Discount on Prepaid